गुह्य अघोर प्रचंड साधनाए, स्वयं करे और परिणाम देखे
आपकी समस्या चाहे कितनी ही पुरानी क्यों न हो, तंत्र /अघोर विद्या सब संभव कर देती है ! यदि आप इस विद्या को सीखना समझना चाहते है प्रमाणिक रूप से तो आप हमारे आवासीय केम्प की सूचनाओ पर ध्यान दीजिये ! १०० प्रतिशत आपका कार्य सिद्ध होगा या नहीं ये तो माता रानी की इच्छा है लेकिन निवेदन आप हमारे विधान से करे अभी तक १५२ केस में से १ भी फेल नहीं हुआ ! शर्त आपके विश्वास की है, लगन की है ! साधनाए चाहे कैसी भी हो, जन साधारण के मध्य उन्हें लिखा नहीं जा सकता, ये बेसिक नियम है, गुरु परंपरा में चलने वाले गुरुजनों की प्रथम आज्ञा है ! जो व्यक्ति इन बेसिक नियमो का पालन नहीं करते है .. वे किसी गुरु, कुल, परंपरा, संप्रदाय से जुड़े हो ही नहीं सकते ! और न ही आप को किसी व्यक्ति से सीधे मंत्र लेने चाहिए .. सर्वाधिक अनर्थ इसी बात पर होता है .. देने वाला अधिकारी नहीं और लेने वाले (अर्थात ग्रहणकर्ता) के सामान्यत: गुरु होते नहीं ! बिन गुरु ज्ञान न हो .. निगुरे को कोई देवी देवता पसंद भी नहीं करते लिख लो .. शेष पोस्ट के माध्यम से ...  ज्योतिष पर :: यदि आप ज्योतिष पर प्रशन पूछना चाहते है तो आप आपकी निम्न जानकारी इस ईमेल पर भेजिए .. 1. Name 2. Date of Birth : ( dd/mm/yyyy ) : 3. Birth Time (Am/PM) : 4. Birth City Name : 5. Near Capital City : 6. State 7. Mobile No.  8. १ फोटो जिसमे आँखे साफ़ दिख रही हो ! 9 यदि आप विवाहित है ? यदि हा तो अपने पार्टनर की कुंडली डिटेल्स भी भेजिए फोटो सहित भेजे और अगर बच्चे है तो उनकी भी कुंडली डिटेल्स फोटो सहित भेजे ! 10. आपका एक प्रशन -------------- आप ये जानकारी ईमेल : [email protected] पर भेजे ! आपको ६० घंटे के भीतर जवाब अवश्य दे दिया जाएगा ! जय महाकाली जय महाकाल